भीषण डाका, बम विस्फोट व गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया बॉर्डर इलाका, रात में पहेदारी कर रहा चौकीदार जख्मी,

भीषण डाका, बम विस्फोट व गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया बॉर्डर इलाका, रात में पहेदारी कर रहा चौकीदार जख्मी,

सागर कुमार ,,सीतामढ़ी ब्यूरो,,

सीतामढ़ी :- जिले के परिहार प्रखंड के बेला थाना क्षेत्र में बुधवार की रात भीषण डकैती से स्थित लोगो में घबराहट बनी हुई है। कल कौन परिवार इन बदामासो का शिकार बनेगा डर का बड़ा कारण बना हुआ है। थाना क्षेत्र के मुजौलिया बाजार में व्यवसायी वेदानंद साह के घर पर डकैतों ने गोलियां बरसाई। बम भी फोड़े बाजार की परहेदारी कर रहा चौकीदार दीपक कुमार सिंह इस दौरान बम विस्फोट में जख्मी हो गया।

धावा बोलते ही स्वजनों को बंधक बना लिया। आधे घंटे तक लूटपाट मचाई। भीषण लूटपाट के बाद डकैत फरार हो गए। डकैती की सूचना के बाद बेला थाना पुलिस गांव में पहुंची। जिला मुख्यालय से भी वरीय पदाधिकारी पहुंचे। छानबीन चल रही है। पुलिस का कहना है कि डकैतोें का सुराग ढूंढने के लिए खोजी कुत्ते की मदद ली जा रही है। बताते चलें कि बेला थाना क्षेत्र इन दिनों डकैतों के लिए सेफ जोन बन गया है। जिले में पिछले तीन महीने में 14 घरों से करीब 80 लाख की डकैती हुई है। परिहार में डकैती की ताबड़तोड़ घटनाओं ने यहां के लोगों को कंगाल बना दिया है। रात्रि गश्ती तेज करने की बजाए पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी है।

तीन महीनों में 14 घर से 80 लाख की लूट

18 सितंबर को बेला थाने के नरंगा और शिवनगर गांव में डकैतों ने दो किसानों के घर से करीब पांच लाख की संपत्ति लूटी। ठीक 12वें दिन 30 सितंबर को इसी थाने के खैरवा गांव में मवेशी व्यापारी के घर डाका डाल 4.30 लाख की संपत्ति लूटी। 10 दिन बाद ही फिर धावा बोला। बेला थाना क्षेत्र के राजवाड़ा गांव में एक होम्योपैथी डॉक्टर के घर से 17 लाख से अधिक की संपत्ति लूटी।

डकैती की घटनाएं सोनबरसा, सुरसंड जैसे बॉर्डर इलाकों के बाद अभी हाल में जिला मुख्यालय डुमरा में भी हुई। डुमरा के बछारपुर में भाजयुमो नेता के घर से छह लाख से अधिक की संपत्ति को लूट लिया। चार नवंबर को भिट्ठा ओपी क्षेत्र के हनुमाननगर से पैक्स अध्यक्ष समेत पांच घरों में डाका डाल 40 लाख की संपत्ति लूटी गई थी। दहशत फैलाने के लिए डकैतों ने दो बम भी विस्फोट किए है।