पांच साल के बच्चों का अपहरण पांच दिन बाद मिला लाश, गुस्साए परीजन ग्रामीणों ने किया सड़क जाम काटा बबाल

तीन थाने की पुलिस पहुंची तब जाकर हुआ मामला शांत।

पांच साल के बच्चों का अपहरण पांच दिन बाद मिला लाश, गुस्साए परीजन ग्रामीणों ने किया सड़क जाम काटा बबाल
आक्रोशित ग्रामीण सड़क पर बवाल करते हुए।

समस्तीपुर जिले के वहिनी वैनी ओपी थाना क्षेत्र के ठहरा गोपालपुर वार्ड संख्या 12 निवासी  रघुवीर कुमार(5) पिता मिथुन दास का पुत्र रघुवीर कुमार उर्फ मंगारू 25 तारीख के दोपहर से ही लापता हो गया था। जिसकी सूचना वैनी ओपी के थानाध्यक्ष बीके झा को दी गई थी। एवं बच्चे की खोजबीन को लेकर क्षेत्र में माइकिंग आदि भी कराई गई थी लेकिन इस का कोई अता पता नहीं चल पाया था। बुधवार की सुबह लापता बच्चे की लाश पीड़ित परिवार के घर के पीछे शौचालय की टंकी में लटकी हुई देखी गई। इस सूचना की जानकारी आग की तरह पूरे क्षेत्र में फैल गई। लाश के, मिलते ही सारे गांव में मातम का माहौल बना गया लोग शांत हो गए। धीरे-धीरे लोग जुटे पीड़ित परिवार को बच्चे की लाश बरामद हुई तो। पूरे गांव के लोगों बच्चें के लाश को लेकर पूसा रोड से पूसा जाने वाली मुख्य मार्ग को बाधित कर उग्र प्रदर्शन करने लगे। उग्र भीड़ को नियंत्रित करने के लिए वैनी ओपी के थानाध्यक्ष बी० के ०झा पूसा थाना नीशा भारती एवं ताजपुर थाना प्रभारी दल बल के साथ मौके पर पहुंच कर भीड़ को नियंत्रित कर शांतिपूर्ण तरीके से ग्रामीणों को समझा कर जाम खुलवाने में मदद की वैनी ओपी थानाध्यक्ष बीके झा के आश्वासन पर पीड़ित परिवार ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए दिया। जानकारी होगी यह आश्वासन दिया कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा एवं जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। पुलिस लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल समस्तीपुर को भेज दिया। पूरे दिन क्षेत्र में इस जघन्य अपराध को लेकर निंदा और चर्चा जोरों पर है सबकी जुबान पर एक ही बात था आखिर इस अबोध ने किस का क्या बिगाड़ा था