नेपाल में हो रही कई दिनों से मूसलाधार वर्षा की देन भयावह भुखलन, कई परिवार काल के गाल में समाया, तो दर्जनों की कराई जा रही है इलाज

नेपाल में हो रही कई दिनों से मूसलाधार वर्षा की देन भयावह भुखलन, कई परिवार काल के गाल में समाया, तो दर्जनों की कराई जा रही है इलाज

सागर कुमार सीतामढ़ी,,


नेपाल में कोरोना के दो नये मरीज मिले

सीतामढ़ी :- कोरोना महामारी कल में प्राकृतिक आपदा आम लोगो के बीच एक खौफ पैदा करती जा रही है। वर्षा और बाढ़ ने जहां लोगो को परेशान कर रखा है। वहीं भुखलन भी अपनी तांडव दिखाने से परहेज़ नहीं कर रही है। अपनी तांडव से सरकारी तंत्र से लेकर सामाजिक तंत्र तक  लोगो की चिंता बढ़ा दी है। बीते दिन शुक्रवार को पड़ोसी देश नेपाल के सिंधुपाल चौक के साथ जुगाल के लिडीमो लामा टोले कि भूखलन कि घटना भारी तबाही मचाई है। इसके चपेट में आने से बड़ी संख्या में घरों के साथ जान माल की नुकसान किया है।


नेपाल के कैंप में रह रहे 122 भारतीय नागरिक परिजनो...

अहले सुबह की घटदना :- नेपाल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की अहले सुन्नत तकरीबन छः बजे के आस पास नेपाल के दो जगहों पर उस समय भुखकन जैसी तबाही आयि जब आधे से ज्यादा परिवार सुबह की गहरी नींद में सो रहे थे। एक इलाके दे यानी नेपाल के सिंधूपाल से मिली जानकारी के अनुसार इस घटना के चपेट में आने से बड़ी संख्या में घर तबाह हुए है।

लोगो को खुद का बचाव करने तक का मौका नहीं मिला, इस कारण कई परिवार नींद में ही लापता है। बचाव कार्य में इस जगह से दस व्यक्ति को घायल अवस्था में बचाया गया। कई परिवार के लोग लापता है। वहीं नेपाल के जुगाल क्षेत्र के लिडिमो लामा टोले मे भूखलन कि घटना में 42 लोग लापता है वहीं आधे दर्जन से ज्यादा शव निकले गए है। तथा दर्जनों घायलों को इलाज करवाया जा रहा है।


पर्यटको से गुलजार रहने वाले पर्यटक स्थलो से भीड़ गायब

भुखलान, नेपाल के निकाय जूगाल लिडिमों लामा टोल तथा सिंधूपाल एरिया में कई दिनों से भादी बारिश हो रही है। जिसके वजह से लोगो की जनजीवन प्रभावित हो गया है। वहीं भुखलन जैसे घटना कई जिंदगियां लो लिल गई है। भाडी वर्षा के कारण लोग भूखलन कि बात स्वीकार कर रहे है।


जनकपुर धाम नेपाल के न्यायाधीश को कोरोना संक्रमित होने...