पूर्वी चम्पारण :जिले के तीन जगहों से नेपाल में चार चक्का वाहनों के प्रवेश की मिली अनुमति, सीमावर्ती लोगो में ख़ुशी

पूर्वी चम्पारण जिले वासियों के लिए रविवार को बड़ी खुशखबरी मिली है। भारत नेपाल सीमा के तीन जगहों से चार चक्का निजी वाहनों के नेपाल प्रवेश के अनुमति की जानकारी एसएसबी के द्वारा दिया गया है। विदित हो कि 2020 में कोरोना के समय भारत नेपाल सीमा से एसएसबी के द्वारा चार चक्का वाहनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। जिसके बाद से लगातार क्षेत्र के लोगो जनप्रतिनिधियों एवं विभिन्न संगठनों के द्वारा वाहनों के प्रवेश के..............

पूर्वी चम्पारण :जिले के तीन जगहों से नेपाल में चार चक्का वाहनों के प्रवेश की मिली अनुमति, सीमावर्ती लोगो में ख़ुशी

पूर्वी चम्पारण जिले वासियों के लिए रविवार को बड़ी खुशखबरी मिली है। भारत नेपाल सीमा के तीन जगहों से चार चक्का निजी वाहनों के नेपाल प्रवेश के अनुमति की जानकारी एसएसबी के द्वारा दिया गया है। विदित हो कि 2020 में कोरोना के समय भारत नेपाल सीमा से एसएसबी के द्वारा चार चक्का वाहनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। जिसके बाद से लगातार क्षेत्र के लोगो जनप्रतिनिधियों एवं विभिन्न संगठनों के द्वारा वाहनों के प्रवेश के लिए आवाज उठाया जा रहा था। एसएसबी 71वी बटालियन के कमाण्डेन्ट प्रफुल्ल कुमार ने बताया कि घोड़ासहन के झरौखर बॉर्डर, छौड़ादानो के महुअवा बॉर्डर एवं आदापुर के मटिहरवा बार्डर से निजी वाहनों को आने जाने का अनुमति प्रदान किया गया है। उक्त अनुमति एसएसबी के वरीय अधिकारियों के आदेश पर दिया गया है। आने जाने के लिए वाहनों को आवश्यक जांच पड़ताल तथा कागजातों की जाँच की जाएगी। उसके बाद लोकल मार्केट तक आने जाने दिया जाएगा। शादी ब्याह के सीजनों में अब बिना रुकावट के निर्बाध रूप से वाहनों का परिचालन होगा। कमाण्डेन्ट श्री प्रफुल्ल ने बताया कि क्षेत्र के सभी लोग इसमे सहयोग करे, जाँच पड़ताल में प्रसाशन का सहयोग करे। प्रवेश करने वाले सभी बोर्डरों पर एसएसबी द्वारा बैनर लगा दिया गया है। जिसमे आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए गए है। जमुनिया एसएसबी प्रभारी ने बताया कि झरौखर से चार चक्का निजी वाहनों को आने जाने का निर्देश मिल गया है। वाहनों का परिचालन शुरू कर दिया गया है।