यूपीएससी में सीतामढ़ी के बच्चो ने बिखेरे जलवे, कई छात्रों ने मारी बाजी,

यूपीएससी में सीतामढ़ी के बच्चो ने बिखेरे जलवे, कई छात्रों ने मारी बाजी,


सागर कुमार,,
सीतामढ़ी :- कर खुद को इतना बुलंद, कि खुदा भी पूछ बैठे, बता देरी रजा क्या है।।इस कहावत का चरितार्थ उन मेघावी छात्रों ने का दिखाया जिसको लेकर जिले में खुशी की लहर जाग उठी है। अब हर मां बाप अपने लाडले कि शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित है।


सुगौली:-- आरजेडी कार्यकार्यताओं की हुई बैठक।

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की सिविल सेवा परीक्षा-2019 के फाइनल रिजल्ट में सीतामढ़ी के कई छात्रों ने अपने जलवे दिखाए और इम्तेहान में बाजी मारी है। परिहार प्रखंड के मुजौलिया राजपूत टोला के रहने वाले अक्षय रंजुमेश (विक्की) ने 595 वीं रैंक हासिल की है। जिला मुख्यालय डुमरा स्थित अमघट्टा रोड के आदित्य सौरभ को रैंक 495 हासिल हुआ है।


तुरकौलिया :-- स्वास्थ्यकर्मियों की टीम ने लगाई चौपाल।

जबकि, नानपुर, बेला के दीपांकर चौधरी ने 42 वीं रैंक हासिल कर जिले का नाम रोशन किया है। रिजल्ट आने के साथ ही जिले में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। 595 रैंक लाने वाले अक्षय रंजुमेश सामान्य परिवार से आते हैं। उनके पिता का नाम रमेश कुमार सिंह, माता रंजू सिंह, दादा स्व. लक्ष्मेश्वर प्रसाद सिंह है। वे एक भाई और एक बहन हैं। इंटरमीडिएट तक गोपालगंज सैनिक स्कूल में और उसके बाद दिल्ली जेएनयू से पढ़ाई पूरी की।

अक्षय ने प्रारंभिक शिक्षा सीतामढ़ी से हासिल की। वहीं 12वीं तक की परीक्षा गोपालगंज सैनिक स्कूल से पूरी की। उसने 12वीं के साथ-साथ एनडीए भी निकाला। लेकिन उसमें नेवी मिलने के कारण उसने उसे छोड़ दिया। उसके बाद की पढ़ाई दिल्ली स्थित जेएनयू से की। जेएनयू में ग्रेजुएशन के साथ उसने कंबाइंड डिफेंस सर्विसेज की परीक्षा पास की।


पृथ्वी दिवस के अवसर पर नए संकल्प के साथ जनप्रतिनिधियों...

लेकिन उसका लक्ष्य कुछ और था। इसलिए उसने उसे भी छोड़ दिया। पिता रमेश सिंह बताते हैं कि पुत्र की सफलता से पूरा परिवार खुश हैं। कहां की अक्षय बचपन से ही मेधावी था। मां रंजू सिंह ने बताया कि उन्हें अपने बेटे पर गर्व है। उसकी सफलता से पूरा जिला गौरवान्वित है।


मोतिहारी में आठ लोगों ने दी कोरोना को मात, आज सम्मानपूर्वक...


 उधर अक्षय रंजूमेश -- अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता को देते हैं। बताया कि उनके पापा ही प्रेरणा हैं। मम्मी पापा ने खुद मुश्किलें, उठाई लेकिन मुझे किसी चीज की कमी महसूस नहीं होने दी। उसने यूपीएससी की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए टिप्स देते हुए बताया कि किताबें कम पढ़ें लेकिन बार-बार पढ़ें। बार-बार रिवीजन करें। हर दिन अपने आप को पहले से बेहतर बनाएं। धैर्य बनाए रखें और जमकर मेहनत करें। यही सफलता की चाबी है।


आम आदमी पार्टी के प्रमंडल के प्रचार अभियान समिती के...