सीतामढ़ी :- पैसों के लालच में मेड ने ही कराई ओनर की हत्या, 38 घंटे के अंदर राजकीय रेल पुलिस ने किया मामले का पर्दाफांस, तीन गिरफ्तार

सीतामढ़ी :- पैसों के लालच में मेड ने ही कराई ओनर की हत्या, 38 घंटे के अंदर राजकीय रेल पुलिस ने किया मामले का पर्दाफांस, तीन गिरफ्तार

सागर कुमार, चम्पारण टुडे, सीतामढ़ी (ब्यूरो)

सीतामढ़ी :- बीते दिन रेलवे के दो थानों के बीच रेलवे के कैंटिंग संचालक अरुण कुमार सिंह को कैंटिंग के एक कमरे में ही धारदार चाकू से गोद गोद कर किए गए हत्या मामले की राजकीय रेल पुलिस ने मात्र 38 घंटे के अंदर उद्भेदन कर अपनी सक्रियता दिखाई है। इस दौरान रेल पुलिस मुजफ्फरपुर, मेहसौल ओपी थाना के साथ स्थानीय राजकीय रेल पुलिस टीम की साझा अभियान में कैंटिंग संचालक हत्या मामले में संलिप्त गुड्डू और मन्तोष नामक दो शतिरो को धर दबोचा है। जिसे गिरफ्तार कर मुजफ्फरपुर रेल जीआरपी थाना ले जाया गया है।

मामले को लेकर मिली जानकारी के अनुसार कैंटिंग संचालक की हत्या मामले में मास्टर माइंड निकली उक्त कैंटीग की मेड यानी काम करने वाली 60 वर्षीय नौकरानी सूर्य कला देवी। जिसके द्वारा बनाए प्लाल के वजह से कैंटिंग संचालक की हत्या हुई। इस हत्या के पीछे एक मोटी रकम की बात सामने आ रही है। जिसे अपने बैंक से कैंटीन संचालक द्वारा निकाल कर लाया था। रेल के प्रशासनिक सूत्रों द्वारा नाम न छापने के शर्त पर बताया गया कि बीते एक सप्ताह पूर्व रेलवे कांट्रेक्टर अरुण कुमार द्वारा अपने बैंक से एक मोटी रकम निकल कर लाई गयी थी। जिसको लेकर उसकी हत्या का ताना बाना बुना गया। इस कांड में संलिप्त कैंटीन की नौकरानी सूर्यकाला देवी की रही महत्वपूर्ण भूमिका। पैसे की लोभ में नौकरानी ने अरुण कुमार सिंह के भेंडर जो स्टेशन के एक नंबर प्लेटफार्म पर चाय बेचने वाला गुड्डू को पहले अपने शातिराने अंदाज से उसे राजी किया। तब जाकर स्टेशन प्लेटफार्म के बाहर कभी लाई बेचने वाला एक छोटा वेंडर मंतोष को अपने शातिर अंदाज में उसे मिलाया और मंगलवार की रात्रि दोनो मेन गेट से कैंटिंग में प्रवेश किया और तीनो मिल कर अपने मालिक की हत्या कर दिया। वही दोनो हत्यारोपी अपराधी कैंटीन से निकलकर रेलवे सुरक्षा बल कार्यालय होते हुए, तो दूसरा रेलवे लाइन पार कर फरार हो गए। सूत्र बताते है की हत्या के दिन से पुलिस की कस्टडी में चल रही थी उक्त कैंटिग की मेड यानी नौकरानी। जिसे मुजफ्फरपुर ले जाकर पुलिस अपने तरीको से पूछ ताछ  किया। तब जाकर हत्या मामले की परत दर परत खुलता गया और दोनो शातिर को गिरफ्तार किया गया है।



सूत्रो के अनुसार गुरुवार की मध्य रात्रि में ही हत्या में संलिप्त पुनौरा थाना क्षेत्र के मधुवन गांव निवासी राम लक्षण साह के पुत्र मंतोश कुमार को उसके घर से ही गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि दूसरा और मेन अपराधी हसौल थाना क्षेत्र के आदर्श नगर वार्ड 2 निवासी स्व. विंदा साह के पुत्र गुड्डू कुमार को उसके ससुराल सोनबरसा थाना क्षेत्र के भूतही मठिहार कला से सुबह के तीन बजे के आसपास में गिरफ्तार किया गया है। जिसके निशानदेही पर हत्या में उपयोग किए गए एक धारदार बड़ी चाकू को कमला गार्डन के कृष्णापुरी में एक झाड़ी से बरामद किया गया है। इस दौरान पुलिस ने अपराधी गुड्डू की सास को भी गिरफ्तार किया है।