सुगौली:-- सुगौली के करमवा रघुनाथपुर मार्ग में चार महीने पहले बनी पुल बीच मे आधा फीट धस गई है।कभी भी हो सकती है जमींदोज।

सुगौली:-- सुगौली के करमवा रघुनाथपुर मार्ग में चार महीने पहले बनी पुल बीच मे आधा फीट धस गई है।कभी भी हो सकती है जमींदोज।
सुगौली:-- सुगौली के करमवा रघुनाथपुर मार्ग में चार महीने पहले बनी पुल बीच मे आधा फीट धस गई है।कभी भी हो सकती है जमींदोज।

सुगौली:--प्रखंड के करमवा रघुनाथपुर जाने वाली ग्रामीण मार्ग में शीतलपुर से थोड़ी दूर आगे मात्र चार माह पहले बनी पुल धसने लगी है।करीब 1.05 करोड़ की लागत से बनी पुल से लोगों को बड़ी राहत मिलने लगी थी।बाढ़ के समय मे उस जगह बाढ़ की धारा बहने के कारण सड़क मार्ग से आवागमन बन्द हो जाता था।


रामगढ़वा : मुरला में जविप्र द्बारा राशन वितरण नही करने...

पर चंद महीनों पहले बनी पुल बीच मे आधा फीट से ज्यादा धस चुका है।पुल के रेलिंग दवाब के कारण फट रहे है। पुल के अप्रोच मार्ग में दरार पड़ने लगी है।दोनों किनारों पर पानी तेजी से कटाव कर रहा है।करोड़ो की लागत से बनने वाली पुल कभी भी धस सकता है।


पूर्वी चंपारण : तूफान में उजाड़े कई आशियाने

डर के कारण बड़े वाहनों का आना-जाना बंद हो चुका है।केवल बाइक ,सायकल और पैदल लोग डरते-डरते आ- जा रहे है।इस नवनिर्मित पुल के अप्रोच पथ में पानी की तेज धारा बड़ी तेजी से कटाव कर रही है। यहाँ बता दे कि प्रखंड कि करमवा, रघुनाथपुर, पँजिआरवा, मनसिंघा, केकरवा, श्यामपुर, नकरदेई, परसौना, खुटिआरवा सहित करीब दो दर्जन गांवों के लिए यह इकलौता मुख्य पथ है।


ग्रामीणों ने बताया कि चार से पांच महीने पहले इस पुल का उद्घाटन किया गया था ।  लेकिन घटिया सामग्री लगाने के कारण पुल बीच मे धसने लगा और उसमे दरार आने लगी है।पुल के निर्माण की गुणवत्ता , ठीकेदार और विभागीय पदाधिकारियों के काम पर प्रश्न चिन्ह लगाता है।ग्रामीण भी अचंभित है कि करोड़ो की लागत से बनी पुल मात्र चार-पांच महीने में ध्वस्त हो रही है ।उनका कहना है कि इसकी उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए और जिम्मेवार लोगों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए


कोरोना से जंग: घर की लक्ष्मण रेखा पार की तो समाज को...