ठंड के मौसम में रखें बुजुर्ग और बच्चों का ध्यान -कुछ नुख्से अपनाते हुए रहें स्वस्थ्य,अस्थमा, हाई बीपी और हार्ट की बीमारी से जुझ रहे बुजुर्गों को खास ध्यान रखने की जरूरत।

ठंड के मौसम में रखें बुजुर्ग और बच्चों का ध्यान -कुछ नुख्से अपनाते हुए रहें स्वस्थ्य,अस्थमा, हाई बीपी और हार्ट की बीमारी से जुझ रहे बुजुर्गों को खास ध्यान रखने की जरूरत।

ठंड के मौसम में रखें बुजुर्ग और बच्चों का ध्यान
-कुछ नुख्से अपनाते हुए रहें स्वस्थ्य,अस्थमा, हाई बीपी और हार्ट की बीमारी से जुझ रहे बुजुर्गों को खास ध्यान रखने की जरूरत।

सहरसा, 14 जनवरी। सर्दी का मौसम बच्चों और बुजुर्गों के लिए बहुत ही सावधानी बरतने वाला  होता है। खासकर इस मौसम में उन बुजुर्गों को ज्यादा दिक्कत होती है जो सांस, हार्ट, अस्थमा और ब्लड प्रेशर के मरीज होते हैं। सर्दी के मौसम में इनका खाने पीने से लेकर बाहर निकलने को लेकर भी खास ध्यान रखना पड़ता है।

बुजुर्गों पर सर्दी का होता है यह असर-
सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार ने बताया विशेषज्ञों की मानें तो सर्दियों के मौसम में बुजुर्गों की रक्तवाहनियां सिकुड़ जाती हैं। इतना ही नहीं इसका असर हार्ट को खून पहुंचाने वाली धमनियों पर भी पड़ता है। इससे बचने के लिए ज्यादा ठंडे जगहों पर जाने से बचना चाहिए। अगर किसी वजह से आप को ठंड से बाहर निकलना पड़े तो अच्छी तरह से ऊनी कपड़े पहनकर निकलें।
सर्दियों में  खास सावधानियां बरतें बुजुर्ग-
-सर्दियों के मौसम में बुजुर्ग ज्यादा फैट वाली चीजें ना खाएं। इसके साथ ही शराब या सिगरेट का सेवन बिल्कुल न करें।
-ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण बनाये रखें।
-सुबह ज्यादा जल्दी घर से बाहर निकलने की जगह थोडा देरी से निकलें और 3-4 किमी की वॉक जरूर करें।
-मक्खन, घी व दूसरी चिकनाई वाली चीजों का सेवन कम कर दें।
-अगर नमक ज्यादा खाते हैं तो इसकी मात्रा कुछ कम कर दें।
-गुनगुनी धूप का आनंद लें
-हर दिन थोड़ा-थोड़ा व्यायाम और आसन जरूर करें। यह आपको फिट रखने में मदद करेंगे।

इस बीमारियों से जुझ रहे बुजुर्ग रखें ज्यादा ध्यान-
सिविल सर्जन  ने बताया सर्दी के मौसम में मुख्य रूप से अस्थमा, ब्लड प्रेशर और हार्ट जैसी बीमारियों को झेल रहे बुजुर्गों को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। उन्हें इस मौसम में अपना ज्यादा खास ध्यान रखना है। इसमें खाने पीने से लेकर मॉर्निंग और इवनिंग वॉक का ध्यान रखना है, लेकिन यह भी ध्यान रखें कि वॉक ज्यादा ठंड में न करें। इसके साथ ही ठंड में पानी जरूर पीएं।