सरकार की योजना को लेकर कांटी प्रखंड शाहपुर पंचायत में सबसे बड़ी घोटाला का खुलासा सामने आया है

सरकार की योजना को लेकर कांटी प्रखंड शाहपुर पंचायत में सबसे बड़ी घोटाला का खुलासा सामने आया है

शीला चंद्रा


यह भी पढ़े : कोरोना के खिलाफ़ जंग में सेना के रिटायर्ड चिकित्सा कर्मी भी करेंगे सहयोग

 कांटी प्रखंड के शाहपुर पंचायत में करोड़ों की घोटाला का मामला सामने आया है।  मलंगास्थान का चबूतरा , शौचालय,  वृक्षारोपण,  मनरेगा एवं अन्य सभी योजनाओं का पैसा उठ चुका है 18000  लाख ₹ ऐसे ऐसे कितने योजनाओं का पैसा उठ चुका है। लेकिन जमीन पर एक भी काम नहीं है। 

जमीन पर देखा जा सकता है।जब की पंचायत ओडीएफ घोषित कर दिया गया है । स्थानीय लोगों का कहना है यहां पर किसी को कुछ मिला ही नहीं और जिनके नाम पर पैसा उठा है उनको खुद कुछ पता ही नहीं है । आपको  बताते चलें कि जदयू के महानगर अध्यक्ष मिथिलेश पासवान ने बताया कि ऐसे ऐसे अनेकों योजनाएं के नाम पर धलले से घोटाले बाजी हो रहा है। 


यह भी पढ़े : रामगढ़वा : रघुनाथपुर में दहेज-प्रथा मामले में नवविवाहिता की हुई हत्या, पति को किया गिरफ्तार

मिथिलेश पासवान ने बताया कि विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी जा रही है। मिथिलेश पासवान ने बताया कि मुखिया सरपंच वार्ड लगता है कि कांटी थाना की भी  मिलीभगत है। स्थानीय लोगों का कहना है कि जब नेट पर वायरल हुआ तब  पैर तले   जमीन खिसक गई । आखिर सवाल उठता है जो सरकार इन गरीबों की योजना देती है।

उनके नाम पर पैसे उठाकर कागजी काम पर दिखा दिया जाता है की  कंप्लीट वर्किंग। बताते चलें कि यह मामला 2006 से अभी तक चल रहा है । लेकिन कहा जाता है सच सच होता है। सच्चाई छुप नहीं सकती । वही साइबर कैफे के लालबाबू मैं जब इस योजना का लाभ के विषय में मुखिया वार्ड सरपंच सभी से बात  किया एवं विरोध किया तो जान से मारने की धमकी दी जा रही है बार-बार । ना कहीं सार्वजनिक शौचालय का निर्माण किया गया है ना कहीं वृक्षारोपण और ना ही कोई योजना का वहां काम किया गया है कागज कंप्लीट दिखाया जा रहा है ।


यह भी पढ़े : सत्येंद्र ने 451 अंक लाकर अपने क्षेत्र के साथ परिवार का बढ़ाया मान