विधुत स्पर्शाघात से युवक की मौत संपूण गांव में मचा कोहराम

विधुत स्पर्शाघात से युवक की मौत संपूण गांव में मचा कोहराम


समस्तीपुर मोरवा प्रखंड क्षेत्र के ताजपुर थाना क्षेत्र के मोरवा उत्तरी पंचायत अंतर्गत वार्ड संख्या छह में बुधवार को एक युवक की मौत विद्युत स्पर्शघात के कारण हो गई। उक्त युवक की पहचान जदयू नेत्री सह मोरवा उत्तरी पंचायत की पुर्व मुखिया बिड़िया देवी के 35 वर्षीय पुत्र पंकज राज आनंद के रूप में की गई है।


पीडीएस दुकान का अधिकारियों ने किया निरीक्षण।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि वार्ड संख्या छह में नाला निर्माण का कार्य चल रहा था। जिसमें विद्युत उपकरण के सहयोग से काम किया जा रहा था। कार्य करने के दौरान अचानक बिजली कट गई और जनरेटर के सहारे फिर से कार्य शुरू करने की तैयारी की जा रही थी। तभी अचानक पुनः बिजली का करंट भी आ गया।


सुगौली: भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी)ने मनाया...

इसी दौरान स्पर्क्सशघाट के कारण मृतक पंकज राज आनंद की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मोरवा बाजार स्थित वार्ड संख्या छह में नाली निर्माण के दौरान हुई इस घटना को जिसने भी सुना स्वयं को रोक नही स्का ओर बरबस घटनास्थल की ओर दौड़ पड़ा। आनन-फानन में पंकज को स्थानीय मोरवा प्रखंड अवस्थित हॉस्पिटल में ले जाया गया।

जहां चिकित्सकों के द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया गया। 35 वर्षीय युवक पंकज के मौत की खबर क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। देखते ही देखते सैकड़ो की भीड़ जुट गई। सभी लोगो की आंखों से निरंतर अश्रुधारा बह रही थी। बताते चले कि पूर्व मुखिया बिरिया देवी के दो पुत्र थे। जिसमें पंकज राज आनंद बड़ा पुत्र था और पप्पू कुमार उनके छोटे पुत्र थे। विदित हो जदयू नेत्री सह पूर्व मुखिया बिरिया देवी के छोटे पप्पू कुमार की विधवा पत्नी मधु देवी वर्तमान में मोरवा उत्तरी पंचायत की मुखिया हैं।


विहार के उभरते अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले...

वर्ष 2008 में एक हादसा के दौरान उनके छोटे पुत्र पप्पू कुमार की मौत हो चुकी है। एक मात्र पंकज ही था जो अपने परिवार का करता धर्ता था। शायद विधाता को कुछ और ही मंजूर था। विधि का विधान देखिए आज पंकज भी अपने परिवार को अकेला छोड़कर इस दुनिया से अलविदा हो गया। पंकज की माता बिरिया देवी, पत्नी रीता देवी का रोते रोते बुरा हाल है।


कालाबाजारी के गेंहू के साथ पिता पुत्र को ग्रामीणों...

मुखिया मधु देवी रोते रोते बार बार बेहोश हो रही है। तो छोटे छोटे पुत्र ऋषि कुमार, रितिक कुमार, शिवा कुमार, भतीजा कृष्णा कुमार के विलाप को देख कर पत्थर दिल इंसान भी पिघल गया। बरबस सभी के आंखों से अश्रुधा बहने लगी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुची पूर्व सांसद अश्वमेघ देवी ने कभी बिरिया देवी को पानी का छींटा देकर होश में लाने का असफल प्रयास करती तो कभी मुखिया मधु देवी पर पानी का छींटा मरती। लेकिन उनका सभी प्रयाश असफल हो जाता और वे पुनः रोते रोते बेहोश हो जाते। मौके पर पहुची ताजपुर पुलिस के अनुसार यूडी केश दर्ज करने की करवाई शुरू कर दी गई है।


बाढ़ से बचाव के लिए बेतिया जिला प्रशासन का प्रयास युद्धस्तर...