वैशाली : आकांक्षी प्रखण्ड कार्यक्रम के अंर्तगत समीक्षा बैठक का आयोजन

विदित हो कि वैशाली जिले का एक मात्र प्रखंड लालगंज को निति आयोग के तरफ से आकांक्षी प्रखण्ड घोषित किया गया है। आकांक्षी प्रखण्ड कार्यक्रम के अंर्तगत प्रखंड विकास पदाधिकारी लालगंज के अध्यक्षता में प्रखंड कार्यालय में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक को सम्बोधित करते हुऐ प्रखण्ड विकास पदाधिकारी ने बताया की पिरामल फाउंडेशन निति आयोग की सहयोगी संस्था है एवम इस कार्यक्रम में प्रखंड एवम जिला प्रशासन को तकनीकी सहयोग दे रही है। बैठक में उन्होने बताया की विगत सप्ताह में निति आयोग के माध्यम से वर्चुअल बैठक आकांक्षी प्रखंड कार्यक्रम के लिए आयोजित किया गया था जिसमें कुछ दिशा..........

वैशाली : आकांक्षी प्रखण्ड कार्यक्रम के अंर्तगत समीक्षा बैठक का आयोजन

वैशाली। विदित हो कि वैशाली जिले का एक मात्र प्रखंड लालगंज को निति आयोग के तरफ से आकांक्षी प्रखण्ड घोषित किया गया है। आकांक्षी प्रखण्ड कार्यक्रम के अंर्तगत प्रखंड विकास पदाधिकारी लालगंज के अध्यक्षता में प्रखंड कार्यालय में समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक को सम्बोधित करते हुऐ प्रखण्ड विकास पदाधिकारी ने बताया की पिरामल फाउंडेशन निति आयोग की सहयोगी संस्था है एवम इस कार्यक्रम में प्रखंड एवम जिला प्रशासन को तकनीकी सहयोग दे रही है। बैठक में उन्होने बताया की विगत सप्ताह में निति आयोग के माध्यम से वर्चुअल बैठक आकांक्षी प्रखंड कार्यक्रम के लिए आयोजित किया गया था जिसमें कुछ दिशा निर्देश प्राप्त हुआ है और इसके तहत आगे की रूप रेखा तैयार करनी है। बैठक में पिरामल फाउंडेशन के जिला कार्यक्रम प्रबन्धक कुमार अभिषेक के द्वारा आकांक्षी प्रखण्ड कार्यक्रम पर विस्तृत रूप से चर्चा किया गया। अपने संबोधन में कुमार अभिषेक ने बताया की आकांक्षी प्रखण्ड कार्यक्रम में कुल 39 इंडीकेटर हैं जो मुख्यतः स्वास्थ, शिक्षा, कृषि, न्यूट्रीशन, बैंकिंग, सोशल डेवलपमेंट, ड्रिंकिंग वाटर, सेनिटेशन से संबंधित है। अभी के निति आयोग के दिशा निर्देशानुसार इनमे से छह इंडीकेटर जिसमे स्वास्थय से तीन, न्यूट्रीशन से एक, कृषि से एक एवम सोशल डेवलपमेंट से एक इंडीकेटर को नीति आयोग ने चिन्हित किया है। इन इंडीकेटर पर अगले 90 दिनों के एक्शन प्लान बनाकर निति आयोग को जिले के माध्यम से सबमिट करना है। प्रखण्ड विकास पदाधिकारी ने सभी संबंधित विभाग को दिशा निर्देश देते हुऐ कहा की आगमी तीन दिनो के अन्दर अपने विभाग से संबंधित इंडीकेटर का प्लान बनाकर कार्यालय को सूचित करें। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया की आगमी बैठक में सभी संबंधित विभाग अपने संबंधित सभी इंडीकेटर पर विस्तृत कार्य योजना की रूप रेखा बनाकर आयेंगे एवम इसपर विस्तृत चर्चा होगी l बैठक में पिरामल फाउंडेशन के प्रोग्राम लीडर मनोज कुमार, गांधी फेलो कोमल बानशोडे, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड कृषि पदाधिकारी, बाल विकास योजना पदाधिकरी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, जीविका एवम संबंधित विभाग के प्रतिनिधी उपस्थित थे।