गाड़ी के रजिस्ट्रेशन या फिटनेस के लिए आपको देनी होगी ये खास डिटेल्स

गाड़ी के रजिस्ट्रेशन या फिटनेस के लिए आपको देनी होगी ये खास डिटेल्स

कोरोनवायरस की स्थिति के मद्देनजर, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने नए वाहन के पंजीकरण से पहले या पूरे देश में वाहनों को फिटनेस प्रमाण पत्र जारी करने से पहले FASTag विवरण कैप्चर करने का निर्णय लिया है.


विशाखापट्टनम के एलजी पोलिमर्स इंडिया पीवीटी एलटीडी...


नई दिल्लीः सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने देशभर में गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन करने या उनको फिटनेस सर्टिफिकेट जारी करते समय गाड़ी में लगे फास्टैग (Fastag) की जानकारी लेने के निर्देश दिए हैं. मंत्रालय ने एनआईसी (NIC) को एक लेटर लिखा है. सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को इस लेटर की कॉपी भेजी गई है. मंत्रालय ने साफ तौर पर कहा है कि वाहन (Vahan) पोर्टल के साथ राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (NETC) को पूरी तरह जोड़ दिया गया है और यह 14 मई को API के साथ लाइव हुआ है. 


जो भी प्रवासी मजदूर दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं...

FASTag का फिटमेंट यह सुनिश्चित करना है कि राष्ट्रीय राजमार्ग शुल्क प्लाजा पार करने वाले वाहन FASTag भुगतान के इलेक्ट्रॉनिक माध्यम का उपयोग करते हैं, और नकद भुगतान करने से बच जाते हैं. 2017 में, श्रेणी एम और एन के वाहनों की बिक्री के समय नए वाहनों में FASTag का फिट होना जरूरी कर दिया गया था. लेकिन बैंक खाते के साथ लिंक करने पर ग्राहक मना कर रहे थे.  इस बात को अब चेक किया जाएगा.

एनएच टोल प्लाजा पर COVID के प्रसार की संभावनाओं को कम करने के लिए FASTag का उपयोग करने के लिए लगातार बढ़ावा दिया जा रहा है.


रेल यात्रियों के लिए बड़ी दुःख भरी खबर सामने आई है,...