आधार अपडेट कराने के लिए UIDAI ने दी नई जानकारी, नहीं होगी बैंक जाने की जरूरत

आधार अपडेट कराने के लिए UIDAI ने दी नई जानकारी, नहीं होगी बैंक जाने की जरूरत
आधार अपडेट कराने के लिए UIDAI ने दी नई जानकारी, नहीं होगी बैंक जाने की जरूरत

 


यह भी पढ़े : बालू की रेत से बनाया वीर कुंवर सिंह की कलाकृति

आधार अपडेट कराने के लिए UIDAI ने दी नई जानकारी, नहीं होगी बैंक जाने की जरूरत

अब कोई भी व्यक्ति अपने आधार में डेमोग्राफिक डेटा को कॉमन सर्विस सेंटर जाकर अपडेट करवा सकेगा. UIDAI ने इस बारे में सोमवार को जानकारी दी है. जून के अंत तक यह काम शुरू भी कर दिया जाएगा.


यह भी पढ़े : नेपाल से आये मोतिहारी के 9 मजदूर क्वारेंटाइन सेंटर से फरार

 

आधार अपडेट करने वालों के लिए सरकार ने एक बड़ी राहत दी है. अब कॉमन सर्विस सेंटर्स के जरिए भी आधार अपडेट करवाया जा सकता है. भारतीय​ विशिष्ट पहचान प्रधाधिकरण  ने करीब 20 हजार कॉमन​ सर्विस सेंटर्स को आधार अपडेट करने की इजाजत दे दी है. इसके पहले यह काम बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंट द्वारा किया जाता था. इन सभी सेंटर्स पर आधार अपडेट का सिस्टम तैयार करने की तैयारी चल रही है.


यह भी पढ़े : तुरकौलिया पूर्वी पंचायत के मुखिया ने कवारेंटीन सेंटर पर बांटे डिग्निटी किट।

मिलेगी डेमोग्राफिक अपडेट की सुविधा


 


यह भी पढ़े : क्वारंटाइन सेंटर में सुविधाओं का अभाव सरकार अपनी विफलता व अराजकता को छुपाना चाह रही है राजद प्रदेश सचिव जवाहरलाल राय

UIDAI ने सोमवार को जानकारी दी कि अब कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए भी आधार अपडेट कराया जा सकता है. UIDAI ने CSC की ई-प्रशासन सेवाओं के CEO दिनेश त्यागी को लिखे पत्र में कहा है कि सिर्फ डेमोग्राफिक अपडेट सुविधा की अनुमति दी जाएगी. सेंटर संचालक और आधार यूजर्स की पहचान अंगुलियों के निशान और आंख की पुतली के जरिए की जाएगी.


 


यह भी पढ़े : BIHAR के PRIVATE SCHOOL नहीं लेंगे मार्च-अप्रैल का फी, शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश

जून के अंत तक तैयार हो जाएगा सिस्टम

UIDAI ने कहा कि इसके लिए जून के अंत तक सिस्टम तैयार होने की उम्मीद है. CSC से बच्चों का बॉयोमेट्रिक्स विवरण अपडेट किया जाएगा और पते में बदलाव भी हो सकेगा. इसके लिए सेंटर संचालकों को पुलिस वेरिफिकेशन रिपोर्ट जमा करनी होगी, जोकि 3 महीने से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए.

रविशंकर प्रसाद ने भी दी जानकारी

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद और आईटी राज्य मंत्री संजय धोत्रे ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए UIDAI द्वारा CSC को मंजूरी देने के बारे में बताया.

 

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि वह चाहेंगे कि CSC के ऑपरेटर UIDAI के निर्देशों के अनुसार आधार का काम शुरू करें. प्रसाद ने कहा, ‘मुझे यकीन है कि इस सुविधा से बड़ी संख्या में ग्रामीण नागरिकों को अपने निवास स्थान के करीब आधार सेवा पाने में मदद मिलेगी.’